14 Feb : Bell fight for his patent for telephone

On this day in 1876, 29-year-old Alexander Graham Bell fought a tug of war for the patent  for his revolutionary invention – the telephone.
unknownEarlier to this there was telegraph for distant communication. Samuel F.B. Morse’s invention of the telegraph in 1843 made communication possible between two distant points. But it was a slow process.

Bell wanted to improve on this by creating a “harmonic telegraph,” a device that combined aspects of the telegraph and record player to allow individuals to speak to each other from a distance. Thus he invented telephone.

alexander-graham-bells-telephone-patent80-drawing-march-7-1876.jpeg

Similar claim was made by American inventor and electrical engineer Elisha Gray.
elisha-grays-patent-caveat-for-the-invention-of-the-telephone.gif

Bell’s patent filing beat Elisha Gray’s claim by only two hours.

#Hindi  
ये तो हम सभी जानते हैं कि टेलीफोन का आविष्कार एलेक्ज़ैंडर ग्राहम बेल ने किया था। लेकिन क्या आपको मालूम है कि इस आविष्कार को अपने नाम करने के लिए उन्हें कानूनी लड़ाई लड़नी पड़ी थी। 1876 में आज अमेरिकी आविष्कारक एलिशा ग्रे और मशहूर वैज्ञानिक एलेक्ज़ैंडर ग्राहम बेल, दोनों ने टेलीफोन के पेटेंट के लिए अर्ज़ी दी थी। लेकिन बाद में एलिशा ग्रे हार गए…वो भी सिर्फ इसलिए क्योंकि उनकी अर्ज़ी और ग्राहम बेल की अर्ज़ी में दो घंटों को फर्क था। मतलब, ग्राहम बेल ने उसी दिन अर्ज़ी दी थी जिस दिन एलिशा ग्रे ने, लेकिन दो घंटे पहले। टेलीफोन को मानव इतिहास के सबसे बड़े आविष्कारों में गिना जाता है।